Book Store


Ek Duniya Bheetar Ki

Ek Duniya Bheetar Ki by
Pallavi Solunke


Pages: 99, 5x8, Hindi
Available Types: Print, E-book
Genre: Poetry

ISBN: 9788195094547
Paperback: Rs.270 Rs.180 + Shipping
Ebook: Rs.99 (ebook will be delivered on the release date, 23rd July 2021)



ABOUT THE BOOK

कवयित्री का ये मानना है कि हर इन्सान की भीतर की अपनी एक दुनिया होती है। कोई दिखाता है तो कोई छुपाता है। आज के जमाने में जहाँ भावनाओं को व्यक्त करना, अपना दुख दिखाना कमजोरी माना जाता है, वहीं कवयित्री मानती है कि एक परिपक्व इन्सान ही दिल का हाल दिखाने में हितकिचाता नहीं है। इसी लिए वह कविताओं के माध्यम से अपना दर्द वाचकों के साथ बाँटकर उन्हें ये महसूस कराना चाहती हैं कि गम को झूठलाकर वो कम नहीं होगा। उसे अपनाना पडेगा जरुर।

ONLINE PLATFORMS